72 घंटे का अल्टीमेटम : अमित जोगी ने आमरण अनशन की दी चेतावनी….कहा 3 दिन के भीतर व्यवस्था नहीं सुधरी, तो बैठूंगा आमरण अनशन पर…..होम आइसोलेशन नियम को तोड़ने की भी दी चेतावनी

रायपुर 19 सितंबर 2020। अमित जोगी ने एक बार फिर आमरण अनशन का अल्टीमेटम दिया है। पिछले दिनों शिक्षक व पुलिस भर्ती के मुद्दे पर अनशन पर बैठ चुके अमित इस बार बिजली कटौती से खफा है। उन्होंने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर 3 दिन के भीतर मरवाही में बिजली कटौती बंद नहीं हुई , तो वो आमरण अनशन पर बैठेंगे।

उन्होंने कहा कि मरवाही में बिजली कटौती ने विकराल रूप धारण कर लिया है। 24 घंटों में मात्र 2-3 घंटे ही बिजली रहती है।जितना राज्य सरकार का पूरे छत्तीसगढ़ में कोरोना से लड़ने के लिए कुल बजट है, उस से 4 गुना ज़्यादा की तो वो अकेले मरवाही में- मेरे पिता के स्वर्गवास के बाद- घोषणाएँ कर चुकी है। इन चुनावी घोषणाओं का क्या मतलब जब सरकार यहाँ के लोगों को बिजली जैसी मूलभूत सुविधा देने में विफल है? अमित जोगी ने कहा कि  मुख्यमंत्री खुद बिजली विभाग के भी मंत्री हैं लेकिन पिछले 20 सालों में मरवाही में कभी भी इतना अंधेरा नहीं छाया है।

अगर अगले 3 दिनों में मरवाही में बिजली कटौती बंद नहीं होती है तो मैं अपने पारिवारिक शोक- कल ही मेरे बड़े पापा का कोरोना से निधन हुआ है- की सारी रस्मों और होम आयसोलेशन, दोनों को तोड़कर आमरण अनशन पर बैठूँगा।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.