50 लाख का डाका : तमंचे की नोंक पर राजधानी में डाका डालने वाले 5 डकैत पकड़ाये…..पता पूछते हुए घर का दरवाजा खटखटाया…फिर बंदूक-चाकू दिखाकर लूट ले भागे 50 लाख….. राजधानी पुलिस ने 24 घंटे के भीतर धर दबोचा

रायपुर 15 फरवरी 2020। राजधानी में तमंचे की नोक पर डाका डालने वाले 5 डकैत पुलिस गिरफ्त में आ गये हैं। राजधानी पुलिस ने 24 घंटे के भीतर लूटेरों के इस गिरोह को बेनकाब कर दिया है। गुरुवार की रात राजधानी के देवेंद्र नगर में कारोबारी के परिवार को बंधक बनाकर 50 लाख की लूट की वारदात हुई थी। राजधानी में लंबे समय बाद हुई इस घटना ने पुलिस को भी सकते में डाल दिया था। कमाल की बात ये रही कि रिहायशी अपार्टमेंट में इस पूरी वारदात को अंजाम दिया गया और किसी को इसकी भनक तक नहीं लग सकी। 

घटना के बाद SSP आरिफ शेख के निर्देश बनी पुलिस टीम ने 24 घंटे के भीतर से डकैतों के गैंग को धर दबोचा। अब से कुछ देर बाद एसएसपी इस पूरी वारदात का खुलासा करेंगे। पकड़े गए आरोपी बीकानेर और राजस्थान के रहने वाले है। सभी प्रोफेशनल तरीके से डकैती की ऐसी वारदात किया करते थे। पहले भी आरोपी कई राज्यों में इस तरह की लूट की घटना को अंजाम दे चुके है। पुलिस ने इन आरोपियों के पास से लूट की रकम और हथियार जब्त किए है। लूट के आरोपियों को पकड़ने में रायपुर पुलिस की बड़ी भूमिका रही है।

दरअसल घटना रायपुर के देवेंद्र नगर थाना स्थित त्रिमूर्ति नगर की है। प्लाईवुड कारोबारी, बजरंग शर्मा, रामरतन शर्मा को डकैतों ने अपना शिकार बनाया। ये दोनों बबलू शर्मा के लिए प्लाईवुड एवं पैसे वसूली का काम करते है। 13 फरवरी की रात साढ़े नौ बजे के आसपास जब बजरंग शर्मा घर पर टीवी देख रहे थे। उस दौरान तीन लोग आये और पता पूछते हुए घर में दाखिल हो गये। इस दौरान जब बजरंग व रामरतन ने विरोध किया तो उन्होंने कट्टा, चाकू दिखाकर कर मारपीट करने लगे। तीनों आरोपियों के साथ एक और आरोपी घर के अंदर आया और बजरंग शर्मा, रामरतन शर्मा को जान से मारने की धमकी देकर उनके हाथ पैर बांध दिए। साथ ही आरोपियों ने दोनों से अलमारी में लगे लॉकर की चाबी छीन ली और उसमें रखे 50 लाख से ज्यादा की रकम लूट ले गए।

व्यापारियों ने जैसे तैसे इस घटना की जानकारी अपने मालिक बबलू शर्मा को दी, जिसके बाद 14 तारीख की सुबह इस मामले में देवेंद्र नगर थाने में शिकायत दर्ज कराई गई । पुलिस ने इस मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी दिल्ली से की है। पकड़े गए पांचो आरोपी बीकानेर, राजस्थान के रहने वाले है।

Spread the love