प्रयास के 38 बच्चे IIT के लिए क्वालीफाई….रायपुर के 28 बच्चों ने मारी बाजी…. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जतायी खुशी….

रायपुर 5 अक्टूबर 2020। मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने जेईई एडवांस परीक्षा में प्रयास आवासीय विद्यालय के विद्यार्थियों के शानदार प्रदर्शन पर खुशी जतायी है। जेईई एडवांस परीक्षा में प्रयास आवासीय विद्यालयों के 38 विद्यार्थियों ने आईआईटी में प्रवेश के लिए सफलता प्राप्त की है। आईआईटी में प्रवेश के लिए परीक्षा परिणाम आज जारी हुआ।

आईआईटी, एनआईटी और केन्द्र सरकार से वित्तपोषित इंजीनियरिंग संस्थाओं में प्रवेश के लिए प्रतिष्ठित जेईई एडवांस परीक्षा के आज सोमवार को घोषित परीक्षा परिणामों में आदिम जाति विभाग द्वारा प्रदेश में संचालित प्रयास आवासीय विद्यालयों के विद्यार्थियों ने शानदार प्रदर्शन किया है। आदिम जाति कल्याण मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, विभाग के सचिव  डी.डी. सिंह और संचालक शम्मी आबिदी ने सभी सफल विद्यार्थियों को बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी।

उल्लेखनीय है कि इस वर्ष 157 विद्यार्थी जेईई एडवांस परीक्षा के लिए क्वालीफाई हुए। इनमें से 146 विद्यार्थी ने 27 सितम्बर को आयोजित जेईई एडवांस परीक्षा में शामिल हुए और 38 छात्र आईआईटी में प्रवेश के लिए क्वालीफाई हुए हैं। जेईई एडवांस परीक्षा में क्वालीफाई करने वाले सर्वाधिक 28 विद्यार्थी प्रयास बालक आवासीय विद्यालय रायपुर के हैं। इसके अलावा प्रयास आवासीय विद्यालय दुर्ग और प्रयास आवासीय विद्यालय अंबिकापुर से तीन-तीन, प्रयास कन्या आवासीय विद्यालय रायपुर एवं प्रयास आवासीय विद्यालय जगदलपुर से दो-दो विद्यार्थी सहित कुल 38 विद्यार्थियों ने आईआईटी में प्रवेश हेतु क्वालीफाई किया है।

आदिम जाति कल्याण विभाग के अधिकारियों ने बताया कि प्रयास आवासीय विद्यालय के अब तक 52 विद्यार्थी आईआईटी/समकक्ष में, 173 विद्यार्थी एनआईटी/ट्रिपलआईटी/समकक्ष, 35 विद्यार्थी, मेडिकल कॉलेजों में और 695 विद्यार्थी विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेशित हो चुके हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.