बिलासपुर में फंसे दूसरे राज्यों के 250 मजदूरों का किया गया रेस्क्यू, CM भूपेश बघेल के निर्देश पर कलेक्टर अलंग और कमिश्नर पाण्डेय ने संभाला मोर्चा

भोजन और स्वास्थ्य परीक्षण के बाद147 मजदूरों को बस से भेजा गया झारखंड

झारखंड के सीएम सोरेन ने सीएम भूपेश बघेल को कहा आभार

बिलासपुर 24 मार्च 2020. कल रात एर्नाकुलम एक्सप्रेस से बिलासपुर पहुंचे झारखंड,बिहार,बंगाल,म.प्र.समेत अलग-अलग राज्यों के लगभग 250 मजदूरों को जिला प्रशासन ने रेस्क्यू किया। जिनमें से झारखंड के 147 मजदूरों को बस से सकुशल उनके घरों के लिए रवाना किया गया है। बाकी बचें मजदूरों को नगर निगम बिलासपुर के सामाजिक और सामुदायिक भवनों में ठहराया गया है। इसके पहले सभी मजदूरों का स्टेशन परिसर में स्वास्थ्य परीक्षण किया गया और खाने-पीने का इंतजाम किया गया।

“कोरोना” वायरस के चलते पूरे देश में लाकडाउन की स्थिति है। ऐसे हालात में रोजी-रोटी के तलाश में देश के अन्य राज्यों में गए मजदूर अपने-अपने घरों की ओर लौट रहें हैं.देश में ट्रेन सेवा रद्द हो जाने के कारण जो जहां है वहीं फंस गया है। ऐसी ही स्थिति कल बिलासपुर में निर्मित हुई जब रात में एर्नाकुलम एक्सप्रेस से लगभग 250 मजदूर बिलासपुर पहुंचे, इनमें 147 मजदूर झारखंड के थे, बाकी मजदूर बिहार,उ.प्र.,बिहार और म.प्र. के थे। अपने घर लौटने के लिए इन मजदूरों के पास ना कोई साधन था और ना ही भोजन.मजदूरों के फंसे होने की जानकारी सीएम भूपेश बघेल को मिलते ही सीएम बघेल ने बिलासपुर कलेक्टर डाॅ.संजय अलंग को इन मजदूरों के खाने -पीने तथा उनको अपने घरों तक पहुंचाने के निर्देश दिए।

जिसके बाद कलेक्टर के निर्देश में ननि कमिश्नर प्रभाकर पाण्डेय ने निगम की पूरी टीम के साथ मिलकर इन मजदूरों के लिए भोजन व्यवस्था का इंतजाम कराया और फिर झारखंड के 147 मजदूरों को तीन बसों में झारखंड के लिए रवाना किया गया है। उससे पहले स्वास्थ्य विभाग की मदद से सभी मजदूरों का स्क्रीनिंग किया गया । बाकी बचें हुए मजदूरों को शहर के अंदर अलग-अलग भवनों में ठहराया गया है,जिन्हे बाद में भेजा जाएगा। मजदूरों के फंसे होने की जानकारी मिलने के बाद रेलवे का अमला भी मुस्तैद हो गया था। आरपीएफ के व रेल प्रशासन के अधिकारी पूरे समय मौके पर मौजूद रहें। रेस्क्यू के दौरान कलेक्टर डाॅ.संजय अलंग,निगम कमिश्नर प्रभाकर पाण्डेय के अलावा एसपी प्रशांत अग्रवाल पूरे समय मौके पर मौजूद रहें।

ट्विटर पर सीएम बघेल ने सोरेन को कहा चिंता ना करें

अपने राज्य के मजदूरों के बिलासपुर में फंसे होने की जानकारी के बाद झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने छ.ग. के सीएम भूपेश बघेल से ट्विटर के ज़रिए मदद मांगी,जिस पर सीएम बघेल ने हेमंत सोरेन को ट्विट करते हुए कहा,”चिंता ना करें। उनके भोजन आदि का इंतजाम कर दिया गया है,जब तक बिलासपुर में है हम उनका ध्यान रखेंगे। अधिकारी उन्हें झारखंड की सीमा तक पहुंचाने का प्रबंध कर रहें हैं”। मजदूरों के रवाना होने के बाद सीएम भूपेश ने फिर झारखंड के सीएम को ट्विट करते हुए रवाना होने की जानकारी दी तो सीएम हेमंत सोरेन ने कहा “धन्यवाद।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.