सरगुजा में स्थापित होगा ट्राइब फूड पार्क: केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह ने कहा- जनता की भलाई और क्षेत्र के विकास के कार्य को प्राथमिकता दें

रायपुर 12 सितम्बर 2020. केंद्रीय जनजातीय कार्य राज्य मंत्री रेणुका सिंह ने कहा कि सरगुजा जिले के वनवासियों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए वनधन योजना के तहत वनोपज संग्रहण एवं प्रसंस्करण हेतु ट्राईब फूड पार्क की स्थापना की जाएगी। उन्होंने इसके लिए प्रस्ताव तैयार करने तथा जमीन चिन्हांकित करने के निर्देश दिए। सरगुजा जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की पहली बैठक वीडियो कांफ्रेंसिग के माध्यम से आयोजित की गई। बैठक में केन्द्रीय राज्य मंत्री सिंह अपने निवास कार्यालय से और पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टी.एस. सिंहदेव रायपुर से ऑनलाईन जुड़े। बैठक में जिले में केंद्रीय योजनाओं तथा केंद्र प्रवर्तित योजनाओं के क्रियान्वयन पर विस्तृत समीक्षा की गई। योजनाओं का लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने तथा सरगुजा में विकास कार्यों को गति देने पर भी विस्तार से चर्चा की गई।

केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह ने कहा कि योजनाओं के शत प्रतिशत क्रियान्वयन के साथ जनता की भलाई के काम तथा क्षेत्र के विकास के काम को प्राथमिकता दें और कोरोना काल के संकट में मानवीय संवेदना के साथ काम करें। लोगों की छोटी-छोटी समस्याओं पर भी ध्यान दें और उन्हें रोजगार मुहैया कराएं। उन्होंने कहा कि सरगुजा आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र है जहाँ विशेष पिछड़ी जनजाति के लोगों के पास आज भी पानी, बिजली जैसे मूलभूत आवश्यकताओं की कमी है। इन जनजातीय बसाहटों में बिजली तथा पेयजल की व्यवस्था की कराएं। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना तथा मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत पहुंच मार्ग का निर्माण कराएं। उन्होंने अम्बिकापुर शिवनगर तथा अम्बिकापुर पत्थलगांव राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण कार्य की प्रगति की समीक्षा करते हुए शीघ्र निर्माण कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए वहीं दरिमा हवाई अड्डा से उड़ान शुरू करने में आ रही दिक्कतों की जानकारी लेकर कमियों को दूर करने कहा।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने कहा कि विभिन्न योजनाओं के तहत कराये जा रहे निर्माण कार्यों की गुणवत्ता में निगरानी रखें। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत छतीसगढ़ को सर्वाधिक राशि का आवंटन मिला है। उन्होंने दरिमा हवाई अड्डा से उड़ान शुरू करने के संबंध में कहा की 18 सीटर विमान के उड़ान के लिए रन-वे तैयार है। डीजीसीए द्वारा क्लियरेंस मिलना शेष है। उन्होंने अम्बिकापुर से बनारस को भी जोड़ने के लिए प्रस्ताव तैयार करने कहा। उन्होंने कोरोना महामारी के निपटने संबंधी तैयारियों के संबंध में बताया कि होम आईसोलेशन में बिना लक्षण वाले मरीजो को रखा जा रहा है। इसके साथ ही पेड आईसोलेशन की भी सुविधा दी जा रही है। शपथ पत्र देकर किसी भी निजी डॉक्टर से ईलाज करा सकते हैं। इसके लिए 2500 रुपये शुल्क निर्धारित किया गया है। शासकीय चिकित्सक दिन में दो बार टेलीफोनिक संपर्क कर आवश्यक परामर्श देंगे। वर्चुअल बैठक में जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल हुए।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.