npg
शिक्षा

विवि को अकादमिक दिशा देने वाली विद्या परिषद सर्वोच्च वैधानिक इकाई-कुलपति प्रो0 चक्रवाल

कुलपति ने इस मौके पर कहा कि विश्वविद्यालय को अकादमिक क्षेत्र में अग्रणी बनाने के लिए सभी के सहयोग एवं समन्वय की आवशयकता है।

विवि को अकादमिक दिशा देने वाली विद्या परिषद सर्वोच्च वैधानिक इकाई-कुलपति प्रो0 चक्रवाल
X

बिलासपुर, 1 दिसंबर 2021। गुरू घासीदास केन्द्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर आलोक कुमार चक्रवाल विद्या परिषद की पहली बैठक की अध्यक्षता करते हुएं आज कहा कि विश्वविद्यालय को अकादमिक दिशा देने वाली विद्या परिषद सर्वोच्च वैधानिक इकाई होती है। बैठक में विश्वविद्यालय के कुलसचिव प्रो. शैलेन्द्र कुमार सहित समस्त विद्यापीठों के अधिष्ठातागण एवं अन्य मनोनीत सदस्य मौजूद रहे।

कुलपति ने इस मौके पर कहा कि विश्वविद्यालय को अकादमिक क्षेत्र में अग्रणी बनाने के लिए सभी के सहयोग एवं समन्वय की आवशयकता है। मेरा विश्वास है कि आने वासे समय में राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर के अकादमिक मानचित्र पर गुरु घासीदास विश्वविद्यालय का नाम स्थापित होगा।

बैठक की विषयसूची में विभिन्न विषयों पर विद्या परिषद के सदस्यों के द्वारा विचार-विमर्श किया गया जिसमें-27 अगस्त, 2021 की बैठक के कार्यवृत्त की पुष्टि, इसी बैठक के पालन प्रतिवेदन का आवलोकन किया जाना। विद्या परिषद की स्थायी समिति की बैठक 06 सितंबर, 14 सितंबर एवं 01 अक्टूबर, 2021 के कार्यवृत्त का अनुमोदन, अध्यादेश क्रमांक 80 में एलुमनी एसोसिएशन का अनुमोदन, भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय के सचिव के साथ केन्द्रीय विश्वविद्यालयों के कुलपतियों के साथ आयोजित बैठक 21 अक्टूबर, 2021 के कार्यवृत्त, विश्वविद्यालय के नौवें दीक्षांत समारोह में शैक्षणिक सत्र 2020-21 के उपाधियों का वितरण किये जाने पर विचार, विभिन्न संस्थानों के साथ समझौता ज्ञापन जिनमें एमएसएमई प्रौद्योगिकी केन्द्र दुर्ग, सिपेट रायपुर, स्मार्ट ब्रिज एजुकेशनल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड हैदराबाद, बी इनक्यूब-इनक्यूबेशन सेंटर बिलासपुर, ए2 पर्यावरण रायपुर पर विचार करना, वाणिज्य विभाग के मूल्य वर्धित सर्टिफिकेट कोर्स प्रारंभ किया जाना, कैरियर परामर्श और विकास प्रकोष्ठ बनाया जाना, अध्ययन मंडल इंडस्ट्रीयल प्रोडक्शन इंजीनियरिंग, संगणक विज्ञान एवं इजीनियरिंग एवं सिविल इंजीनियरिंग की बैठक 30 सितंबर, 01 और 03 अक्टूबर, 2021 के कार्यवृत्त का अनुमोदन, पीजी डिप्लोमा एवं सर्टिफिकेट कोर्स कंप्यूटेशनल लिंग्विस्टिक में प्रवेश हेतु पुनः विज्ञापन करने सबंधी प्रस्ताव पर विचार, गुरु घासीदास विश्वविद्यालय बिलासपुर एवं भारतीय उद्यमिता विकास संस्थान (ईडीआईआई) अहमदाबाद के बीच समझौता ज्ञापन पर विचार एवं कला विद्यापीठ के अंतर्गत महिमा गुरुपीठ की स्थापना हेतु प्रस्ताव पर विचार करना शामिल

Next Story