लापता AN-32 विमान की पहली तस्वीर सामने आयी, घने जंगल में पड़ा है मलबा…. 3 जून को हुआ था लापता

नयी दिल्ली 11 जून 2019। एयरफोर्स के लापता विमान एएन-32 के मलबे की पहली तस्वीर सामने आई है. इसमें घने जंगल में विमान का मलबा दिख रहा है. भारतीय वायु सेना के लापता विमान एएन-32 का मलबा मिला है. एयर फोर्स की टीम ने एएन-32 के टुकड़ों को अरुणाचल  प्रदेश के लिपो नाम की जगह से 16 किलोमीटर उत्तर में इसके मलबे को देखा है. एयरफोर्स की टीम अब इन मलबों की जांच कर रही है.

वायु सेना ने अब सर्च का दायरा भी बढ़ा दिया है.गौरतलब है कि यह विमान गत तीन जून को जोरहाट से उड़ान भरने के बाद लापता हो गया था। इस विमान को अरुणाचल प्रदेश की सीमा के निकट मेचुका अग्रिम हवाई पट्टी पर उतरना था।  विमान का मलवा 12 हजार फीट की ऊंचाई पर मिला है। वायुसेना के एमआई-17 हेलीकाप्टर की मदद से विमान का मलवा देखा गया। रूस निर्मित एएन-32 (AN-32)परिवहन विमान को 1986 में भारतीय वायुसेना में शामिल किया गया था.

वर्तमान में, भारतीय वायुसेना 105 विमानों को संचालित करती है जो ऊंचे क्षेत्रों में भारतीय सैनिकों को लैस करने और स्टॉक करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. इसमें चीनी सीमा भी शामिल है.

वायुसेना के प्रवक्ता ने कहा कि अब इस बात की कोशिश चल रही है कि  विमान पर सवार लोगों का पता लगाया जाए। विमान पर चालक दल सहित 13 लोग सवार थे।  प्रवक्ता ने कहा कि विमान के मलवे के बारे में अधिक जानकारी मिलने के बाद और जानकारियां साझी की जाएंगी।जमीनी नियंत्रण कक्ष के साथ विमान का संपर्क दोपहर एक बजे टूट गया। रूसी एएन-32 विमान से सम्पर्क 3 जून को दोपहर में असम के जोरहट से चीन के साथ लगी सीमा के पास स्थित मेंचुका उन्नत लैंडिंग मैदान के लिए उड़ान भरने के बाद टूट गया था। विमान में चालक दल के आठ सदस्य और पांच यात्री सवार थे।

सेना के लिए भरोसेमंद है AN-32
AN-32 सेना के लिए काफी भरोसेमंद विमान रहा है. दुनियाभर में ऐसे करीब 250 विमान सेवा में हैं. इस विमान को नागरिक और सैनिक दोनों हिसाब से डिजाइन किया गया है. वैसे ये विमान रूस के बने हुए हैं, जिसमें दो इंजन होते हैं. ये विमान हर तरह के मौसम में उड़ान भर सकता है. रूस के बने हुए ये दो इंजन वाले विमान काफी भरोसेमंद हैं. इसका इस्तेमाल हर तरह के मैदानी, पहाड़ी और समुद्री इलाकों में किया जाता रहा है. चाहे वो सैनिकों को पहुंचाने की बात हो या समान के ढ़ोने की.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.