मनप्रीत सिंह ने रचा इतिहास, बने FIH प्लेयर ऑफ द ईयर जीतने वाले पहले भारतीय….

नईदिल्ली 14 फरवरी 2020  भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह ने एफआईएच प्लेयर ऑफ द ईयर का पुरस्कार जीत लिया है और यह पुरस्कार जीतने वाले वह पहले भारतीय बन गए हैं। हॉकी इंडिया ने इस पुरस्कार को जीतने के लिए मनप्रीत को बधाई दी है। मनप्रीत ने पिछले वर्ष जून में ओडिशा के भुवनेश्वर में एफआईएच पुरुष हॉकी सीरीज फाइनल्स के दौरान भारत के लिए अपने 250 इंटरनेशनल मैच पूरे किए थे।

उनकी कप्तानी में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को फाइनल में हराया था। उनकी कप्तानी और मार्गदर्शन में भारत ने पिछले साल नवम्बर में एफआईएच ओलम्पिक क्वालीफायर्स में रूस को हराकर टोक्यो ओलम्पिक का टिकट हासिल किया था। 2012 के लंदन ओलम्पिक और 2016 के रियो ओलम्पिक में खेल चुके मनप्रीत ने प्लेयर ऑफ द ईयर पुरस्कार 2019 की होड़ में विश्व चैंपियन बेल्जियम के विक्टर वेगनेज और आर्थर वान डोरेन, एफआईएच प्रो लीग 2019 के विजेता ऑस्ट्रेलिया के अरान जालेवस्की और एडी ओकेंडेन तथा अर्जेंटीना के लुकास विला को पीछे छोड़ा। डोरेन को दूसरा और लुकास विला को तीसरा स्थान मिला।

मनप्रीत को 35.2 फीसदी वोट, डोरेन को 19.7 फीसदी वोट और विला को 16.5 फीसदी वोट मिले। इन पुरस्कारों की शुरुआत 1999 में हुई थी और उसके बाद से यह पुरस्कार जीतने वाले वह पहली भारतीय बने हैं। भारत के लिए अब तक 260 मैच खेल चुके हॉकी कप्तान ने कहा कि मैं इस पुरस्कार को जीतने पर खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। मैं यह पुरस्कार अपनी टीम को समर्पित करना चाहता हूं।

मैं दुनिया भर में अपने प्रशंसकों और शुभचिंतकों का धन्यवाद करना चाहता हूं जिन्होंने मेरे पक्ष में वोट किया। यह देखना बहुत सुखद है कि भारतीय हॉकी को कितना पसंद किया जाता है। मैं उम्मीद करूंगा कि यह समर्थन जारी रहे और हम इससे उत्साहित होकर टोक्यो ओलम्पिक में शानदार प्रदर्शन करें। हॉकी इंडिया के अध्यक्ष मोहम्मद मुश्ताक अहमद ने इस पुरस्कार के लिए मनप्रीत को बधाई दी है। एफआईएच पुरस्कारों में यह भारत का तीसरा अवार्ड है। इससे पहले भारतीय पुरुष हॉकी टीम के युवा मिडफील्डर विवेक सागर प्रसाद को एफआईएच का राइजिंग स्टार ऑफ द ईयर तथा भारतीय महिला हॉकी टीम की स्ट्राइकर लालरेमसियामी एफआईएच राइजिंग स्टार ऑफ द ईयर चुना गया था।

Spread the love