बाढ़ग्रस्त इलाके का दौरा करने सुकमा पहुँचे बस्तर कमिश्नर व आईजी….बाढ़ प्रभावित इलाके का लिया जायजा

 

 

जगदलपुर 27 अगस्त 2020  बस्तर कमिश्नर  अमृत खलखो और आईजी  सुंदरराज पी. गुरूवार को सुकमा जिला मुख्यालय के बाढ़ग्रस्त इलाकों का दौरा करने पहुँचे। उन्होंने झापरा, कुम्हाररास, एनएच 30 बाईपास व वार्ड क्रमांक 13 शबरी नगर में बाढ़ प्रभावित इलाके का जायजा लिया और प्रभावितों से चर्चा करके उनका हाल-चाल जाना। इस दौरान कलेक्टर  चंदन कुमार, पुलिस अधीक्षक  शलभ सिन्हा, सुकमा एसडीएम  नभएल. स्माईल और तहसीलदार  बघेल सहित अन्य अधिकारी भी उनके साथ थे। शबरी तट पर बसे शबरी नगर में बाढ़ प्रभावितों से मिलने पहुँचे कमिश्नर और आईजी के सामने सुकमा नगरपालिका अध्यक्ष  राजू साहू और उपाध्यक्ष  आयशा हुसैन ने वार्ड क्रमांक 3,6,11,12 व 13 में रिटेनिंग वाल बनाने के लिए मांग पत्र कमिश्नर को सौंपा, जिसपर उन्होंने जल्द स्वीकृति देने की बात कही। इस दौरान शबरी नगर के बाढ़ प्रभावितों ने जिला व नगरीय प्रशासन के कार्य की तारीफ की। प्रभावितों ने कहा कि बाढ़ के दौरान कलेक्टर चंदन कुमार व उनकी टीम द्वारा हर संभव मदद उपलब्ध कराया गया, राहत शिविर में भी बेहतर इंतजाम किए गए थे।

इसके उपरांत कमिश्नर व आईजी ने सुकमा के कुम्हाररास क्षेत्र में कोविड सेंटर (नवा अभियान) पहुँचकर सेंटर प्रभारियों से चर्चा किए। सेंटर में कोविड संक्रमण को रोकने के लिए किए जा रहें प्रयासों के बारें जानकारी ली गई ।

नक्सल क्षेत्र में बच्चों में शिक्षा पाने की ललक देखकर अभिभूत हुए कमिश्नर और आईजी

कमिश्नर और आईजी जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ रामवनपथ गमन के प्रमुख स्थलों में से एक सुकमा के रामाराम मंदिर के विकास कार्यों का अवलोकन करने रामाराम पहुंचे थे। तभी गांव में नेटवर्क नहीं होने के कारण पेड़ के नीचे पढ़ रहें बच्चों पर उनकी नजर पड़ी, उन्होंने बच्चों के पास जाकर उनसे चर्चा की जिस पर बच्चों ने बताया कि पढ़ाई तुंहर द्वार के तहत उनकी ऑनलाइन क्लासेज चल रही हैं वो रोज इसी तरह यहाँ आकर पढ़ते हैं। नक्सल क्षेत्र में शिक्षा के लिए बच्चों में इस प्रकार की ललक देखकर कमिष्नर और आईजी सहित अन्य अधिकारी अभिभूत हुए।

तुंगल डेम में बाढ़ के दरमियान उत्कृष्ट कार्य करने वालों को किया गया सम्मानित

सुकमा प्रवास में कमिश्नर श्री खलखो और आईजी श्री सुन्दरराज ने सुकमा के प्रमुख पर्यटन केन्द्र तुंगल डेम में बाढ़ के समय उत्कृष्ट कार्य करने वाले जिला बल और नगर सेना के 51 अधिकारी-कर्मचारी को सम्मानित किए।

Spread the love