न्यूजीलैंड के 2 गेंदबाजों के आगे टीम इंडिया ढेर, 165 रन पर सिमटी पहली पारी…..सिर्फ 68 ओवर ही टिक पायी तेज गेंदबाजों के सामने भारतीय टीम

वेलिंगटन 22 फरवरी 2020। भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड के खिलाफ वेलिंगटन में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच की पहली पारी में बेहद खराब प्रदर्शन किया। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम पहली पारी में 68.1 ओवर में सिर्फ 165 रन के स्कोर पर समिट गई। टेस्ट रैंकिंग में टॉप पर भारतीय टीम की शुरुआत खराब रही जिसका उसे खामियाजा भुगतना पड़ा।

कीवी गेंदबाजों ने अनुकूल परिस्थतियों का फायदा उठाते हुए भारत के टॉप और मिडिल ऑर्डर को शुक्रवार को सस्ते में निपटा दिया और जो बाकी रह गए उन्हें शनिवार को पहले सत्र में पवेलियन की राह दिखा दी। भारतीय टीम के खिलाफ दो कीवी गेंदबाज काइल जेमीसन और टिम साउथी के जमकर कहर बरपाया। दोनों ने चार-चार विकेट चटकाए।

पहली पारी में टीम इंडिया के 165 रन के जबाव में उतरी न्यूजीलैंड ने अपनी पारी की मजबूत शुरुआत की। भारत को 11वें ओवर में इशांत शर्मा ने टॉम लेथम (11) को विकेटकीपर पंत के हाथों कैच कराकर पहली सफलता दिलाई। लेथम के बाद टॉम ब्लंडेल (30) और केन विलियमन ने अपनी टीम की पारी को बखूबी संभाल लिया। इन दोनों के बीच अभी 47 रन की साझेदारी हो चुकी थी, तब इशांत ने ब्लंडल को क्लीन बोल्ड कर इसे तोड़ा।

यहां से कीवी टीम की पारी को आगे बढ़ाने अपने करियर का 100वां टेस्ट खेल रहे रॉस टेलर आए। कप्तान विलियमसन ने रॉस टेलर (44) के साथ मिलकर अपनी टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। दोनों ने मिलकर 93 रन की साझेदारी की और भारत पर बढ़त हासिल कर ली। अभी कीवी टीम की लीड 1 रन पर ही पहुंची थी कि इशांत शर्मा ने रॉस टेलर को 44 के निजी स्कोर पर अपना तीसरा शिकार बना लिया।

न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत की पहली पारी में सभी विकेट तेज गेंदबाजों ने हासिल किए। वेलिंग्टन टेस्ट में भारतीय टीम महज 68.1 ओवर ही टिक पाई। इस दौरान न्यूजीलैंड के तीनों ही तेज गेंदबाज ने शानदार प्रदर्शन किया। साउथी, जैमिसन और बोल्ट के आगे पूरी टीम ढेर हो गई। तीनों ने मिलकर 54.1 ओवर गेंदबाजी की जिसमें 145 रन देकर 9 विकेट हासिल किए।

Spread the love