तत्काल टिकटों से 25 हजार करोड़ से ज्यादा की कमाई की रेलवे ने…. RTI में हुआ खुलासा….पढ़िये आंकड़े देखकर रह जायेंगे हैरान

नयी दिल्ली 1 सितंबर 2019। तत्काल टिकट बुक कराने वाले यात्रियों से रेलवे ने गत चार साल में 25,392 करोड़ रुपये की कमाई की है। आरटीआई से मिली जानकारी के मुताबिक तत्काल टिकट बुक कराने वाले यात्रियों से रेलवे ने गत चार साल में 25,392 करोड़ रुपये की कमाई की। वर्ष 2016 से 2019 के बीच तत्काल कोटे से 21,530 करोड़ रुपये की कमाई की, वहीं 3,862 करोड़ रुपये की अतिरिक्त आय प्रीमियम तत्काल टिकटों से हुई। तत्काल टिकट बुकिंग सेवा 1997 में चुनिंदा रेलगाड़ियों में शुरू की गई थी। इसका मकसद अचानक यात्रा करने वाले यात्रियों को सुविधा देना था. वर्ष 2004 में तत्काल टिकट बुकिंग सेवा का विस्तार पूरे देश में किया गया।

तत्काल टिकट बुकिंग सेवा 1997 में चुनिंदा रेलगाड़ियों में शुरू की गई थी. इसका मकसद अचानक यात्रा करने वाले यात्रियों को सुविधा देना था. वर्ष 2004 में तत्काल टिकट बुकिंग सेवा का विस्तार पूरे देश में किया गया. तत्काल टिकट के तहत द्वितीय श्रेणी में मूल किराये से 10 फीसद अतिरिक्त वसूला जाता है जबकि बाकी अन्य श्रेणियों में यह राशि मूल किराये की 30 फीसदी है. हालांकि, इस शुल्क में भी न्यूनतम और अधिकतम सीमा तय की गई है.प्रीमियम तत्काल सेवा 2014 में शुरू की गई थी और 50 फीसदी तत्काल कोटे की सीटों की बुकिंग इसके तहत डायनेमिक किराया प्रणाली (सीट उपलब्धता के आधार पर कीमत) से होती है।

मध्यप्रदेश के आरटीआई कार्यकर्ता चंद्रशेखर गौर की ओर से सूचना के अधिकार के तहत मांगी गई जानकारी पर रेलवे ने बताया कि 2016-17 में तत्काल टिकट से रेलवे को 6,672 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ, जो 2017-18 में बढ़कर 6,952 करोड़ रुपये के स्तर पर पहुंच गया। रेलवे के मुताबिक तत्काल योजना अभी 2,677 रेलगाड़ियों में लागू है और कुल 11.57 सीटों में 1.71 लाख सीटों पर बुकिंग तत्काल कोटे के तहत होती है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

error: Content is protected By NPG.NEWS!!