इस रईस चोर से मिलिये !….वारदात करने फ्लाइट से आता था छत्तीसगढ़….31 लाख का जेवरात हुआ जब्त….SP ने दिया ये इनाम

बिलासपुर 28 अगस्त 2019। कौन कहता है चोर गरीब होता है !….बिलासपुर में तो चोर ऐसा था कि वो चोरी करने के लिए फ्लाइट से छत्तीसगढ़ आता था और फिर चोरी के बाद हवाई सैर करते हुए वापस लौट भी जाता था। बिलासपुर पुलिस ने शातिर और रईस चोरों के एक ऐसे ही गिरोह का पर्दाफाश किया है। चोरों के पास से लाखों रूपये के जेवहरात भी जब्त किये गये हैं। दरअसल बिलासपुर में पिछले कुछ महीनों से लगातार चोरी की शिकायतें आ रही थी। चोरी की शिकायतों पर SP प्रशांत अग्रवाल ने पिछले दिनों CSP के नेतृत्व में एक टीम तैयार की और चोर को पकड़ने के निर्देश दिये।

पुलिस ने इस दौरान CCTV खंगाले, कई संदिग्धों से पूछताछ की, इसी दौरान पुलिस को बिलासपुर के सरकंडा के रहने वाले नीरज यादव को पकड़ने में कामयाबी मिली। हिरासत में लेकर पूछताछ के दौरान पहले तो उसने पुलिस को घूमाने की कोशिश की, लेकिन कड़ाई से पूछने पर उसने गुनाह कबूल किया। उसने बताया कि वो पिछले 7 सालों से पुणे के कोरेगांव में रह रहा था। वो चोरी में लिप्त है और बिलासपुर में चोरी कर उसे पुणे में ले जाकर खपाया करता था। इस चोर की रईसी इतनी थी कि वो फ्लाइट से चोरी करने छत्तीसगढ़ आया करता था।

नीरज की निशानदेही पर पुलिस ने पुणे के उस सर्राफा कारोबारी संतोष को गिरफ्तार किया है, जो चोरी का माल खरीदा करता था। पुलिस ने सर्राफा कारोबारी के पास 80 ग्राम सोने के जेवर और डेढ़ किलो चांदी जब्त की गयी। पुलिस ने आरोपी सर्राफा दुकानदार को गिरफ्तार करने के बाद ट्रांजिट रिमांड पर लिया है। सर्राफा दुकानदार ने कुछ जेवहरात को एमएसजे रिफाइनरी के संचालक संभाजी जाधव को भी बेचा था, फुलिस उनसे भी इस मामले में पूछताछ कर रही है।

एसपी प्रशांत अग्रवाल ने प्रेस कांफ्रेंस कर चोरी के मामले का खुलासा किया है। पुलिस ने इस दौरान 31 लाख रुपये का जेवहरात जब्त किया है, जिसमें 700 ग्राम सोना और साढ़े चार किलो चांदी भी शामिल हैं। एसपी प्रशांत ने इस कामयाबी के लिए जिले की पुलिस टीम को शाबाशी दी है, साथ ही 20 हजार रुपये का नकद इनाम भी दिया है।

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.