इस बस कंडक्टर ने बिना कोचिंग पास की IAS की मेंस परीक्षा……8 घंटे की ड्यूटी के बाद 5 घंटे पढ़ाई कर हासिल किया बड़ा मुकाम…..आफिस की इस महिला IAS बॉस देती है टिप्स

बैंग्लुरू 29 जनवरी 2020। देश ही नहीं दुनिया के सबसे मुश्किल इम्तिहान में से एक UPSC में एक ऐसे शख्स कामयाबी का झंडा गाड़ा है, जो पेशे से बस का कंडक्टर है। नाम है मधु एनसी। 29 साल के मधु एनसी कर्नाटक के BMTC में बस कंडक्टर के तौर पर काम करते हैं। मधु ने 19 साल की उम्र में नौकरी शुरू कर दी थी। आर्थिक तंगी के कारण युवक ने काम करता तो शुरू कर दिया. लेकिन वह अपना सपना पूरा करने के लिए मेहनत करता रहा।

पिछले दिनों UPSC की मेंस का रिजल्ट निकला, जिसे मधु ने क्लियर कर लिया है और अब वो 25 मार्च को होने वाले इंटरव्यू के लिए तैयारी कर रहे हैं। जिस परीक्षा को पास करने के लिए विद्यार्थी दिन के 15-16 घंटे पढ़ते हैं उसी परीक्षा को मधु ने दिन के 5-6 घंटे पढ़ कर ही पास किया। मधु ने पॉलिटिकल साइंस & इंटरनेशनल रिलेशन को अपना  ऑप्शनल सब्जेक्ट चुना था। उनकी इस सफलता पर उन्हें कई बड़ी हस्तियों ने शुभकामनायें दी जिसमे कर्नाटक के उपमुख्‍यमंत्री सीएन अश्‍वथ नारायण भी शामिल हैं।

मधु दिन में नौकरी करके बस में लोगों की टिकट काटता था और फिर रात में रोज 5 घंटे पढ़ाई करना नहीं छोड़ा.मधु अपने घर में अकेला इतना शिक्षित व्यक्ति है जिसने विज्ञान में मास्टर्स डिग्री हासिल कर रखी है. मधु का यह सफर काफी कठिन रहा है। वह रोज आठ घंटे कंडक्टर का कम करते हैं। दिनभर खड़े रहकर टिकट बांटना, भीड़ में सवारियों को बुलाना और यह सुनिश्चित करना कि कोई यात्री बेटिकट ना रहे, ये काम काफी थका देने वाले हैं। इस सबके बावजूद मधु ने नौकरी नहीं छोड़ी है। हालांकि, उनका कहना है कि इंटरव्यू क्लियर करके वह अपने वर्तमान बॉस यानी बेंगलुरु मेट्रोपॉलिटन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन की मैनेजिंग डायरेक्टर आईएएएस सी शिखा जैसा बनना चाहते हैं।

2014 में मधु कर्नाटक प्रशासनिक सेवा परीक्षा में शामिल हुए, लेकिन असफल रहे। 2018 में भी संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की परीक्षा में उन्हें सफलता नहीं मिली। लेकिन इस बार मधु यूपीएससी की प्रारंभिक और मुख्य दोनों परीक्षाओं में सफल हो चुके हैं। सिविल सेवा की तैयारी में मधु की मदद उनकी वर्तमान बॉस आईएएस अधिकारी सी. शिखा (IAS Officer C Shikha) ने की। 2004 बैच की आईएएस सी शिखा अभी बंगलुरू मेट्रोपॉलिटन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (BMTC) की प्रबंध निदेशक (MD) हैं। मधु कहते हैं कि प्रारंभिक में सफल होने के बाद, मुख्य परीक्षा के लिए सी. शिखा ने हर सप्ताह उन्हें दो घंटे पढ़ाया। समझाया की परीक्षा में उत्तर किस तरह लिखने चाहिए। इतना ही नहीं, वह अब मधु को साक्षात्कार के लिए भी तैयार कर रही हैं।

मधु के एथिक्स, पॉलिटिक्ल साइंस, मैथ्स और साइंस हैं। मधु बताते हैं कि वो रोजाना काम पर जाने से पहले और काम से आने के बाद पढ़ाई करते हैं। 25 मार्च को यूपीएससी का इंटरव्यू है। आपको बता दें कि संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने सिविल सेवा परीक्षा 2019 का इंटरव्यू शेड्यूल जारी हो चुका है। इंटरव्यू 17 फरवरी, 2020 से 3 अप्रैल 2020 तक चलेंगे। इस अवधि में कुल 2304 उम्मीदवारों के इंटरव्यू लिए जाएंगे।

Spread the love

Get real time updates directly on you device, subscribe now.